test
मंगलवार, जून 25, 2024
होमराजनीतिहाथरस दुष्कर्म पीड़िता की मौत, यूपी में बढ़ते अपराध पर विपक्ष ने...

हाथरस दुष्कर्म पीड़िता की मौत, यूपी में बढ़ते अपराध पर विपक्ष ने योगी सरकार को घेरा

-

इंडिया टुमारो

पटना, 29 सितंबर | उत्तर प्रदेश के हाथरस में सामूहिक दुष्कर्म की शिकार 19 वर्षीय दलित युवती की आज दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई. पीड़िता की हालत नाज़ुक थी और उसे कल शाम अलीगढ़ से दिल्ली के अस्पताल में एडमिट किया गया था. पीड़िता की मौत की ख़बर के बाद विपक्ष ने उत्तर प्रदेश में बढ़ते अपराध पर योगी सरकार पर निशाना साधा है.

पीड़िता के साथ 14 सितम्बर को गाँव के ही उच्च जाती के चार दबंगों ने रेप किया और फिर कथित रूप से उसकी ज़बान काटी, रीढ़ की हड्डी तोड़ दी और जान से मारने की कोशिश भी की.

अलीगढ़ अस्पताल में न्यूरोसर्जरी के प्रमुख फखरुल होदा ने पीड़िता के इलाज के बारे में बात करते हुए पत्रकारों से कहा था कि, “उसकी रीढ़ को ठीक करने के लिए सर्जरी केवल उसकी स्थिति में सुधार के बाद ही की जा सकती है. रीढ़ की हड्डी को नुकसान स्थायी रूप से दिखाई दिया.”

अस्पताल में भर्ती होने के एक हफ्ते बाद, लड़की ने पुलिस को बताया कि उसके साथ चार लोगों ने दुष्कर्म किया था. पीड़िता ने आरोपियों का नाम भी बताया था. सभी चार आरोपियों के नाम संदीप, रामू, लवकुश और रवि है. इन्हें दुष्कर्म, हत्या के प्रयास और एससी / एसटी अधिनियम की धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया है.

पीड़िता के पिता ने रविवार को पत्रकारों से कहा था कि चारों आरोपियों के परिवार उन्हें धमका रहे हैं. लड़की ने अपने परिवार को यह भी बताया था कि चार लोगों ने उसे इस घटना के बारे में किसी को सूचित करने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी थी.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी ने गैंगरेप पीड़िता की मौत पर ट्विट कर संवेदना प्रकट करने के साथ-साथ उत्तर प्रदेश की क़ानून व्यवस्था को ज़िम्मेदार ठहराया है.

उन्होंने ट्विट किया, “हाथरस में हैवानियत झेलने वाली दलित बच्ची ने सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया। दो हफ्ते तक वह अस्पतालों में जिंदगी और मौत से जूझती रही.”

उन्होंने ट्विट कर कहा है, “हाथरस, शाहजहांपुर और गोरखपुर में एक के बाद एक रेप की घटनाओं ने राज्य को हिला दिया है। यूपी में कानून व्यवस्था हद से ज्यादा बिगड़ चुकी है. महिलाओं की सुरक्षा का नाम-ओ-निशान नहीं है. अपराधी खुले आम अपराध कर रहे हैं. इस बच्ची के क़ातिलों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए. योगी जी, उप्र की महिलाओं की सुरक्षा के प्रति आप जवाबदेह हैं.”

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा सुप्रीमो ने पीड़िता की मौत पर ट्विट किया है. उन्होंने सरकार से पीड़ित परिवार की सहायता और आरोपियों को सज़ा दिलाने की मांग की कहा है.

मायावती ने ट्विट कर कहा है, “यूपी के हाथरस में गैंगरेप के बाद दलित पीड़िता की आज हुई मौत की खबर अति-दुःखद। सरकार पीड़ित परिवार की हर संभव सहायता करे व फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाकर अपराधियों को जल्द सजा सुनिश्चित करे, बीएसपी की यह माँग.”

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्विट कर हाथरस गैंगरेप पीडिता की मौत पर दुख जताया है और क़ानून व्यवस्था के लिए सरकार पर निशाना भी साधा है.

अखिलेश यादव ने ट्विट कर कहा है, “हाथरस की गैंग रेप एवं दरिंदगी की शिकार एक बेबस दलित बेटी ने आख़िरकार दम तोड़ दिया. नम आँखों से पु्ष्पांजलि! आज की असंवेदनशील सत्ता से अब कोई उम्मीद नहीं बची.”

आज़ाद समाज पार्टी के चंद्रशेखर आज़ाद ने ट्विट कर योगी सरकार को इन अपराधों के लिए ज़िम्मेदार बताया है और आरोपियों को सख्त से सख्त सज़ा देने की मांग की है.

उन्होंने ट्विट कर कहा है, “हाथरस की हमारी बहन जो दरिंदगी का शिकार हुई थी, अब इस दुनिया मे नही रही। मै बार बार यह मांग करता रहा कि उसे AIIMS में भर्ती कराया जाए, लेकिन BJP सरकार ने ऐसा नहीं किया। हमारी बहन की मौत के ज़िम्मेदार जितने वे बलात्कारी दरिंदे हैं उतनी ही जिम्मेदार उत्तरप्रदेस सरकार भी है.”

उन्होंने कहा, “हमारी सहनशीलता की परीक्षा न ली जाए। मैं माँग करता हूँ कि उन दरिंदो को तुरंत फांसी पर लटकाया जाये, जब तक उन दरिंदो को फांसी नहीं होगी,ना हम चैन से सोएंगे ना सरकार व प्रशासन को सोने देंगे। मैं सफदरजंग हॉस्पिटल पहुंच रहा हूँ.”

चंद्रशेखर पीड़िता से मिलने अस्पताल भी गए थे और बेहतर इलाज के लिए सरकार से दिल्ली के एम्स ले जाने की मांग की थी.

पीड़िता पांच भाई-बहनों में सबसे छोटी थी. कुछ समय के लिए लाइफ सपोर्ट पर भी रखी गई. पिता के कहने पर लड़की को सोमवार को दिल्ली रेफर किया गया था. आज सुबह उसकी मौत हो गई.

Donate

Related articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest posts