test
मंगलवार, जून 25, 2024
होमदर्शनबिहार विधानसभा चुनाव: 28 अक्टूबर से 7 नवंबर तक होंगे मतदान, 10...

बिहार विधानसभा चुनाव: 28 अक्टूबर से 7 नवंबर तक होंगे मतदान, 10 नवंबर को होगी काउंटिग

मुख्य चुनाव आयुक्त ने बताया कि पहले चरण के लिए एक अक्टूबर को अधिसूचना जारी होगी. पहले चरण के लिए 28 अक्टूबर, दूसरे चरण के लिए तीन नवंबर और तीसरे चरण के लिए 7 नवंबर को मतदान होगा. वोटों की गिनती 10 नवंबर को होगी.

-

इंडिया टुमारो

नई दिल्ली, 25 सितंबर। बिहार विधान सभा चुनाव को लेकर कयास लगाए जा रहे थे जिसपर निर्वाचन आयोग ने तारीखों का ऐलान कर विराम लगा दिया है. चुनाव आयोग ने शुक्रवार को बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है. मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने प्रेस को संबोधित करते हुए बताया कि बिहार विधानसभा चुनाव कुल तीन चरणों में होंगे.

पहले चरण में 16 जिलों के 71 विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव होंगे. दूसरे चरण में कुल 17 जिलों के 94 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान होंगे। तीसरे चरण में 15 जिलों के 78 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान होंगे.

मुख्य चुनाव आयुक्त ने बताया कि पहले चरण के लिए एक अक्टूबर को अधिसूचना जारी होगी. पहले चरण के लिए 28 अक्टूबर, दूसरे चरण के लिए तीन नवंबर और तीसरे चरण के लिए 7 नवंबर को मतदान होगा. वोटों की गिनती 10 नवंबर को होगी.

पहले चरण के मतदान में करीब 31,000 बूथ पर वोट डाले जाएंगे, दूसरे चरण में 42,000 बूथ पर और तीसरे चरण में साढ़े 33 हजार बूथ पर वोट डाले जाएंगे.

चुनाव आयोग ने बिहार विधानसभा चुनाव में मतदान के लिए एक घंटे का समय बढ़ाया है. कोरोना के कारण इस बार ऑनलाइन नामांकन भी होंगे लेकिन उम्मीदवारों को नामांकन का प्रिंटआउट जमा करना होगा.

चुनाव आयोग ने क्वारंटाइन लोगों के लिए अलग से वोट देने की व्यवस्था की जाएगी. क्वारंटाइन वोटर अंतिम घंटे में वोट डालेंगे.

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने शुक्रवार को प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि कोरोना काल के कारण सभी तरह की सावधानियों के साथ बिहार के विधानसभा चुनाव होंगे।

सुबह सात से शाम छह बजे तक मतदान होगा. इस प्रकार एक घंटे मतदान की अवधि बढ़ाई गई है। पहले शाम पांच बजे तक मतदान होता था. हालांकि, एक घंटे अधिक मतदान की सुविधा नक्सल प्रभावित इलाकों में नहीं होगी.

मुख्य आयुक्त आयुक्त ने बताया कि कोरोना के कारण सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन होगा.

बिहार में पहले से ही सियासी माहौल गरम है और विपक्षी पार्टियाँ कृषि बिल को लेकर लगातार प्रदर्शन कर रही हैं. इसी बीच चुनाव आयोग द्वारा तारीखों का ऐलान राजनीतिक सरगर्मियों में और इज़ाफा करेगा.

Donate

Related articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest posts