test
सोमवार, जून 24, 2024
होममूल प्रश्नमूल प्रश्नएसोसिएशन ऑफ मुस्लिम प्रोफेशनल्स ने शिक्षा में उत्कृष्टता के लिए राष्ट्रीय पुरस्कारों...

एसोसिएशन ऑफ मुस्लिम प्रोफेशनल्स ने शिक्षा में उत्कृष्टता के लिए राष्ट्रीय पुरस्कारों की घोषणा की

-

इंडिया टुमारो

नई दिल्ली, 8 सितंबर | शिक्षक दिवस की पूर्व संध्या पर, एसोसिएशन ऑफ मुस्लिम प्रोफेशनल्स जो एक राष्ट्रीय स्तर की नॉन प्रॉफिट आर्गेनाइजेशन है और शिक्षा व रोज़गार के क्षेत्र में काम कर रहा है, ने अपने प्रतिष्ठित एएमपी नेशनल अवार्ड फॉर एक्सेलेंस इन एजुकेशन‘ 2020 के लिए चयनित नामों की घोषणा की है. 

एसोसिएशन ऑफ मुस्लिम प्रोफेशनल्स (एएमपी) ने इन पुरस्कारों को राष्ट्र निर्माण में शिक्षकों के योगदान को उजागर करने के लिए शुरू किया है.

पुरस्कृत होने वालों के कुछ नाम इस प्रकार हैं :

  • Retired Lt. Gen. Zameer Uddin Shah (Bahraich, Uttar Pradesh) – Former Vice-Chancellor of Aligarh Muslim University
  • Mr. Abdul Waheed Khan (Ontario, Canada) – Former President & CEO at IGNOU
  • Dr. M Abdul Salam ( Calicut, Kerala) – Former Vice-Chancellor, University of Calicut
  • Prof. Jalees Tareen (Mysore, Karnataka) – Former Vice-Chancellor of Kashmir University
  • Prof. Irfan Habib (Aligarh, Uttar Pradesh) – Professor Emeritus Department, History
  • Dr. Ishmail Musabhai Bhana (Bharuch, Gujarat) – Principal, J.M. Shah Arts & Commerce College, Jambusar
  • Mr. Kaka Mohammed Zubair (Vaniyambadi, Tamil Nadu)  Chairman, Vaniyamabadi Muslim Education Trust
  • Dr. Abdus Saleque (Burnihat, Assam) – Chief Scientist, Goat Research Centre
  • Adv. Mohd. Azeemuddin (Gulbarga, Karnataka) – President, Tipu Sultan Shaheed Educational Trust, Gulbarga
  • Prof. Jalaluddin Kathat  (Ajmer, Rajasthan) – Associate Professor, Government College, Byaver

Educational Institutions

  • Al Ameen Mission, Howrah, West Bengal
  • Rahmani 30, Patna, Bihar
  • Azam Campus Pune, Maharashtra
  • Melvisharam Muslim Educational Society, Melvisharam, Tamil Nadu
  • Mewat Engineering College Group, Mewat, Haryana
  • Al Ameen Group of Institution, Bangalore, Karnataka
  • Anjuman Khairul Islam, Mumbai, Maharashtra
  • Shibli National College, Azamgarh, Uttar Pradesh
  • Khaja Bandanawaz Institute, Gulbarga, Karnataka
  • JDT Islam Group of Institutions, Calicut, Kerala

ये पुरस्कार 6 अलग-अलग श्रेणियों में  ज्यूरी मेंबर्स  द्वारा चुने गए शीर्ष 100 शिक्षा के क्षेत्र में काम कर रहे प्रोफेशनल्स को दिए जाते हैं.

  • प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षक
  • कॉलेज और विश्वविद्यालय शिक्षक
  • हेड ऑफ इंस्टीट्यूशन्स
  • इस्लामी शिक्षा (अरबी / फ़िक़ह / इस्लामी अध्ययन)
  • शिक्षा संस्थान
  • लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड्स

एएमपी ने इन पुरस्कारों को राष्ट्र निर्माण में शिक्षकों के योगदान को उजागर करने के लिए शुरू  किया है.

जैसा कि 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाते हैं और इस दिन पूरे भारत में शिक्षकों और शिक्षाविदों के योगदान और उनके द्वारा किए गए कार्यों और सफलता को यद किया जाता है. एएमपी द्वारा इस अवसर पर पुरस्कार की घोषणा की गयी है.

एएमपी द्वारा राष्ट्रीय पुरस्कार पहली बार सितंबर 2017 में घोषित किए गए थे और पिछले 3 वर्षों में देश भर में 295 प्रभावशाली शिक्षकों को उत्कृष्टता पुरस्कार से सम्मानित किया जा  चुका  है.

देश भर से नॉमिनेशन्स मांगे गए थे और लोगों को विभिन्न संस्थानों से शिक्षक, प्रधानाचार्य और सीनियर टीचर्स को नॉमिनेट करने के लिए कहा गया था, जिन्होंने सोसाइटी और कम्युनिटी को विशिष्टता प्रदान की है.

एस्टीम जूरी ने 100 ऐसे शीर्ष प्राप्त शिक्षाविदों का मूल्यांकन और चयन किया और उन्हें इन पुरस्कारों का प्राप्तकर्ता के रूप में घोषित किया.

 श्री आमिर इदरीसी, प्रेजिडेंट ऐ एम पी ने कहा, “मैं उन सभी टीचर्स को अपनी दिली मुबारकबाद  देता हूँ, जिन्हें विशेष रूप से नॉमिनेट किया गया था, जिन्हें AMP द्वारा शिक्षा और अमूल्य योगदान के क्षेत्र में उनकी उत्कृष्ट सेवाओं की मान्यता के लिए चुना गया और सराहा गया.

शिक्षकों को अपना संदेश देते हुए उन्होंने कहा, “आज की आधुनिक दुनिया में, यह बहुत ज़रूरी  है कि हमारे बच्चे प्यार, सम्मान और सहनशीलता के मानवीय मूल्यों को समझें, जो एक शांतिपूर्ण दुनिया के लिए ज़रूरी हैं. इसलिए, यह महत्वपूर्ण है कि शिक्षक इन मूल्यों के महत्व पर जोर दें.  छात्रों को  इंसान की भलाई और मुल्क की तरक़्क़ी के बारे में सोचने के लिए बनाया जाना चाहिए.”

 ऐएमपी के जनरल सेक्रेटरी श्री शोएब सेलिया ने कहा, “शिक्षकों के महत्व को पैगंबर मुहम्मद स०अ० ने जो कहा उस से समझा जा सकता है, जहां उन्होंने कहा था कि, “मुझे केवल आपके लिए एक शिक्षक के रूप में भेजा गया है.” उन्होंने अपनी कई एजुकेशनल एक्टिविटीज के माध्यम से लोगों के दिल और दिमाग में जगह बना ली.

 डॉ. जाहिदा खान, हेड-एनसीटी ने कहा, “साझेदारी और सहयोग भविष्य के लिए मंत्र हैं. एएमपी प्रोजेक्ट्स को सभी तक पहुचाने के लिए, हमने शिक्षको कॉलेजों, स्कूलों और भारत के अन्य शैक्षिक संस्थानों के साथ साझेदारी करने का फैसला लिया है.”

एसोसिएशन ऑफ मुस्लिम प्रोफेशनल्स (एएमपी) सभी प्रोफेशनल्स के लिए बड़े पैमाने पर समाज के विकास के लिए अपने ज्ञान, बुद्धि, अनुभव और कौशल को साझा करने के लिए एक मंच है, जो शैक्षिक, सामाजिक रूप से वंचित लोगों को जीवन के आर्थिक और राजनीतिक मोर्चो पर और आगे सशक्त करने की कोशिश कर रहा ह है. 

एएमपी अपने विभिन्न प्रोजेक्ट्स को सभी ज़रूरतमन्द लोगों तक पहुचाने के लिए दुनिया भर के प्रोफेशनल और ऑर्गनाइजेशन को इनवाइट करता है.

Donate

Related articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest posts